Theme :
Home
Granth
eBook
eSatsang
Saint
Leelaye
Temple
Yatra
Jap
Video
Shanka
Health
Pandit Ji

Daily Sankalp

submit to reddit  

Sankalp is a effort to make world better place to live. We believe that everybody would like to contribute to make this society better place to live. Sankalp is a consious effort to commit yourself to do one or more good task daily. You can come and take a daily resolution for one or more task. You need to update the status of your resolution before 24 hrs. Radhakripa will give you Blessings on completion of the sankalp.Radhakripa will put some Penalty in form of reduction of blessings incase not able to update the status of sankalp on time.

मछलियों को दाना डालना है
मछलियों को दाना डालने से खोयी हुई समृद्धि वापस मिलती है.इसलिए नित्य प्रति मछलियों को दाना डालने का संकल्प लेना चाहिये.
Accept for Today   
गाय को चारा डालना है.
गाय को नित्य प्रति एक रोटी देने का नियम बनाना चाहिए.गाय को रोटी देने से ग्रह पीड़ा दूर होती है,और गौ माता में समस्त देवि देवताओ का वास होता है,गौ को रोटी खिलाने से समस्त देवो देवताओ को एक ही साथ भोग लग जाता है.
Accept for Today   
कुत्ते को रोटी डालना है.
कुत्ते को रोटी देने से शत्रु कमजोर होता है.इसलिए रोज कुछ न कुछ खिलाना चाहिये.
Accept for Today   
पक्षियों को दाना डालना है .
पक्षियों को दाना डालने से व्यापार में वृद्धि होती है,इसलिए नित्य प्रति का संकल्प बनाना चाहिये.
Accept for Today   
झूठ नहीं बोलना है.
कहते है झूठ बोलना पाप है.झूठ बोलने से हमें उसकी आदत हो जाती है और एक झूठ को छिपाने के लिए फिर हम हजारों झूठ बोलते है.झूठ बोलना कुछ ही परिस्थियों में अच्छा है,जैसे किसी कि जान बच रही हो,बिगड़ा काम बन रहा हो,आदि
Accept for Today   
किसी का दिल नहीं दुखाना है.
जब हम किसी को सुख नहीं दे सकते तो हमें उसे दुःख देने का क्या अधिकार है.और यदि वही व्यवहार वह व्यक्ति हमारे लिए करे तो हमें कैसा लगेगा.ये विचार करना चाहिये.
Accept for Today   
धूम्रपान नहीं करूँगा.
धूम्रपान करने से हम उसके आदि हो जाते है,और कुछ अच्छा तो हमें उससे मिलता नहीं.बल्कि उससे हमारा स्वस्थ ही खराब होता है,और दूसरों को भी हानि होती है.
Accept for Today   
गरीब को खाना खिलाना है .
कहते है किसी भूखे को भोजन कराने से अच्छा पुण्य का काम और दूसरा नहीं है.किसी मंदिर में यदि हम चढावा न दे और एक भूखे को खाना खिला दे तो वह ज्यादा श्रेष्ठ है.
Accept for Today   
मंदिर जाऊँगा
मंदिर जाने से मन को शांति मिलती है। कहते हैं मंदिर में जो तरंगे होती है वे सात्विक होती है वहाँ का वातावरण भी शांत होता है.परिक्रमा करने से हमें ऊर्जा मिलती है.
Accept for Today   
किसी असहाय की सहायता करना है.
यदि कोई वृद्ध या बच्चा है या शारीरिक रूप से असहाय है,या आर्थिक,रूप से जरुरत मंद है तो हम उसकी सहायता कर सकते है क्योकि ये एक धार्मिक कार्य भी है और ऐसा करने के बाद जो मन में सुकून होता है,उसका जो आनद है वह तो सबसे बढ़कर है.
Accept for Today   
गुस्सा नहीं करना है.
जब मन की कोई इच्छा पूरी नहीं होती तो क्रोध आता है और क्रोध सबसे पहले विवेक का नाश कर देता है,जब विवेक का नाश हो जाता है तो सबकुछ बिगड जाता है,इसलिए हम एक दिन का ही सही संकल्प ले की हम गुस्सा नहीं करेगे.
Accept for Today   
बुरा नहीं बोलना है .
जब हम किसी के प्रति बुरा बोलते है तो वास्तव में हम अपने लिए ही बुरा करते है क्योकि बुरा बोलकर हम अपना कर्म बिगाड लेते है.इसलिए कोशिश करे कि बुरा न बोले.
Accept for Today   
मन में बुरा विचार नहीं लाना है.
मन में यदि बुरा विचार आता है तो कभी कभी हम वह काम भी कर जाते है जिसको हम करना नहीं चाहते,इसलिए मन का निरीक्षण करते रहना चाहिये,कि मन कहाँ है क्योकि वास्तव में हमारा मन जहाँ है हम वही है.
Accept for Today   
चीटी को दाना डालना है.
चीटियों को दाना डालने से कर्ज या ऋण से मुक्ति मिलती है.और एक साथ कितने जीवो को भोजन कराने का फल मिलता है.
Accept for Today   
भगवान के लिए एक भजन गाना है .
विषय सम्बन्धी गाने सुनने से विषयो में ही मन आसक्त होता है,और भगवान का भजन गाने से मन प्रसन्न और भगवान कि ओर अपने आप चला जाता है.
Accept for Today   
दान करना है.
जिस प्रकार स्नान से तन की,ध्यान से मन की,शुद्धि होती है उसी प्रकार दान से धन की शुद्धि होती है.यदि धन शुद्ध है तो वह धन बुद्धि खराब नहीं करता,इसलिए दान जरुर करना चाहिये.
Accept for Today   
कुछ समय मौन रहना है.
कुछ समय हमें मौन रहना चाहिये,इस समय में चिंतन करना चाहिये,ऐसा करने से हमारी ऊर्जा कि बचत होती है जिसे हम किसी अच्छे काम में लगा सकते है,कुछ देर मौन रहकर ये सोचे कि ये दुनिया हमारे बोले बगैर भी चल सकती है.बेकार बोलने से अच्छा मौन रहना ज्यादा अच्छा है.
Accept for Today   
धार्मिक किताब पढनी है .
धार्मिक किताब पढ़ने से मन सात्विक हो जाता है मन में उसी का चिंतन चलता रहता है.यदि हम कोई बुरा साहित्य पढते है तो मन में वैसे ही बुरे विचार आते है.
Accept for Today   
सत्संग करना है .
शारीरिक थकान के लिए जैसे व्यक्ति घर का आश्रय लेता है वैसे ही मानसिक थकान के लिए उसे सत्संग का आश्रय लेना जरुरी है.सत्संग भगवत चर्चा संत जन करते है.जिससे हम भगवान से सीधे जुड जाते है.
Accept for Today   
रात को जल्दी सोना है.
यदि रात को हम जल्दी सोयेगे तो सुबह जल्दी जग जायेगे.और दिन कि शुरुवात सूर्य उदय से पहले हो जाये तो हम एकदम तरोताजा रहेगे.क्योकि देर से सोने पर हम देर से ही जागेगे,और देर से जगाने पर आँखों कि रौशनी कम हो जाती है.
Accept for Today   
किसी एक के चेहरे पर हँसी लानी है .
किसी को रुलाना तो बहुत आसान है कठिन है तो किसी रोते हुए को हँसाना.हम यदि माध्यम बन जाये किसी को हँसाने का तो इससे एक सुकून मिलता है.
Accept for Today   
अपनी एक बुरी आदत छोडना है.
इस दुनिया में सर्व गुण संपन्न कोई नहीं होता,न ही एक दिन मै ही कोई गुनी बनता है पर जैसे बूंद-बूंद करके सागर भरता है वैसे ही छोटे छोटे संकल्पों से एक दिन हम अपनी सारी बुरी आदते छोड देगे.
Accept for Today   
एक पौधा लगाना है .
एक वृक्ष कितना परोपकारी होता है वाह कभी अपने फल स्वयं नहीं खाता कोई यदि उसे पत्थर मारता है तो बदले में फल दे देता है,जीवन दायनी श्वास हम वृक्षों से ही पाते है.पौधा लगाने से पितृ दोष दूर होता है.
Accept for Today   
व्यर्थ पानी नहीं बहाना है
आध्यात्म कहता है कि पानी कभी भी व्यर्थ नहीं बहना चाहिये.जिस घर में पानी बहता है या नल में से टपकता रहता है उस घर में संपत्ति भी पानी कि तरह ही बह जाती है.इसलिए पानी अनमोल है.और पानी कि बचत करनी चाहिये.
Accept for Today   
नदी, तालाव और फर्श को गन्दा नहीं करना है
प्रकृति ने इतनी सारी नेमते दी है हमें हम क्या कचरे में रह सकते है नहीं,फिर ये दुनिया तो भगवान का घर है,जब हम अपने घर को स्वच्छ रखते है तो फिर बाहर क्यों हम गन्दगी फैलाये.
Accept for Today   
माता और पिता के चरण दबाना है.
शास्त्रों में माता को पृथ्वी से बड़ी और पिता को आकाश से भी ऊँचा कहा गया है,माता पिता को प्रणाम करने से आयु,विघा,यश,बल.चारो बढते है.जब भगवान गणेश जी को ब्राह्मड में चक्कर लगाने थे तब उन्होंने अपने माता पिता कि ही परिक्रमा की थी माता पिता के चरणों में ही चारो धाम है.
Accept for Today   
सहकर्मी से ईर्ष्या नहीं करनी है.
ईर्ष्या की भावना व्यक्ति को आगे कभी नहीं बढ़ा सकती,ईर्ष्या से भरा व्यक्ति न स्वयं आगे बढ़ सकता है न दूसरों को बढ़ा हुआ देख सकता है,इस प्रकार व्यक्ति स्वयं का भी भला नहीं करता और दूसरों का भी नहीं कर सकता.
Accept for Today   
अपने सहकर्मी से गलत बर्ताव नहीं करना है.
जो व्यवहार हम स्वयं के लिए नही चाहते वह व्यवहार हम क्यों दूसरों के लिए करे.एक बार हम स्वयं को उसकी जगह रखकर देखे कि हम कैसा महसूस करते है.
Accept for Today   
एक टूटा रिश्ता जोड़ना है.
एक रिश्ता जब टूटता है.तो केवल दो लोग ही दूर नहीं होते दो परिवार,सारे रिश्ते सभी दूर हो जाते है,यदि हम एक टूटा रिश्ता जोडने में किसी कि मदद कर सके तो ये एक बहुत अच्छा काम होगा.
Accept for Today   
एक दुखी व्यक्ति के चहरे में खुशी लानी है.
यदि कोई व्यक्ति दुखी है.और उसके चेहरे पर हम मुस्कान ला दे तो इससे बढकर कर कुछ हो ही नहीं सकता,ये हमेशा याद रहना चाहिये की.किसी की आँखों में आँसू लाना बड़ी बात नहीं है,पर मुस्कान लाना बहुत बड़ी बात.
Accept for Today   
आज मदिरा पान नहीं करूँगा
आज कल समाज में मदिरा पान एक हिस्सा होता जा रहा है, इसलिए यह संकल्प जरूरी है की मनुष्य इस संकल्प को लेकर एक और बुरे आदत से दूर हो सके |
Accept for Today   
I will not eat non vegetarian today
Today people needs to be motivated to move towards vegetarian diet.
Accept for Today   
I will do one extra mala of jaap today
Doing one mala jaap is normal but moving a step ahead towards god.
Accept for Today   
I will inspire someone to move god or meditation
Today we all are just struggling for survival and we dont have time to think about "who are we", so its necessary that we show people the way to god for achieve peace
Accept for Today   
आज कम से कम एक श्लोक या एक चौपई अर्थ सहित किसी भी ग्रन्थ की पढुंगा जैसे भगवद गीता, रामायण, भगवद इत्यादि |
आज के परिवेश में हम सोचते है के कोई ग्रन्थ पढ़े परन्तु समय कभी नहीं निकलते, ग्रन्थ हमे भगवन के विषय में जानकारी दे उनके पास ले जाते है |
Accept for Today   
मैं कागज व्यर्थ नहीं करूँगा और प्लास्टिक का प्रयोग कम से कम करूँगा |
आज कल कार्य स्थल पर हाथ साफ़ करने के लिए लोग बहुत कागज बर्बाद करते है | और सब्जी आदि खरीदने के कपडे के थेले के प्रयोग को प्रोत्साहित करे, यही इस संकल्प की भावना है |
Accept for Today   
लाईट व्यर्थ में नहीं जलाना है.
प्राकृतिक संसाधनो का प्रयोग ज्यादा करने से एक दिन वे समाप्त हो जायेगे.जितने की हमें जरुरत है हम उतना ही उपयोग करे.
Accept for Today   
काम करते करते भगवान का नाम लेना है
भगवान का नाम अग्नि स्वरुप है.जिस प्रकार अग्नि में हम कुछ भी डाले अग्नि सबकुछ ग्रहण कर लेती है इसी प्रकार भगवान का नाम है,चाहे हम जैसे भी ले वह तो अपना असल जरुर दिखाता है.इसलिए नाम लेकर काम करने की आदत होनी चाहिये.
Accept for Today   
सूर्य भगवान को अर्ग चढाकर प्रणाम करना है
सूर्य भगवान को अर्ग देने से तेज बढ़ता है,इसलिए बच्चो को छोटे से ही सूर्य को अर्ग देना सिखाना चाहिये.इससे वे तेजस्वी और तीक्ष्ण बुद्धि के होते है.
Accept for Today   
पेड़, पौधे नहीं काटना है .
पेड़ पौधों में देवताओ का वास होता है.और पितृ पक्ष में अपने पितरो के नाम से एक पौधा लगाना चाहिये.
Accept for Today   
प्रतिदिन सोने से पहले दिनभर में किये अच्छे बुरे कर्मो को याद करना है
यदि हम प्रतिदिन इस बात पर ध्यान दे कि हमने क्या अच्छा बुरा किया तो इससे जल्दी ही हम अपनी बुरी आदतों हो छोड़कर अच्छे कर्मो में लग जायेगे.
Accept for Today   
प्रातःकाल उठकर अपने माता पिता गुरु जानो को प्रणाम करना है
"प्रातःकाल उठके रघुनाथा मात-पिता, गुरु नावहि माथा"बडो को प्रणाम करके यदि हम अपने दिन की शुरुवात करते है तो संत कहते है प्रणाम करने से आयु ,विद्या यश और बल ये चार चीजे बढ़ जाती है.
Accept for Today   
अपने जीवन में एक बार किसी भी पुराण की कथा कराना है.
श्रीमद्भागवत पुराण की कथा करवाने से बढकर और कुछ भी नहीं,इससे पितृगण तृप्त होते है,भगवत चरणों में प्रेम बढाता है, इसलिए जीवन में एक बार अवश्य ही भागवत कराना चाहिये.
Accept for Today   
महीने में,सप्ताह में ,एक बार, अनाथ आश्रम,वृद्धाश्रम,जाना है उनके साथ समय बिताना है
अपने लिए,और अपनों के लिए,तो सभी जीते है,लेकिन दूसरे को समय देना,उनके सुख दुःख बांटना बड़ी बात है.
Accept for Today   
रक्तदान करते रहना है.
रक्तदान महादान,जिससे हम किसी की जिंदगी बचा सकते है.
Accept for Today   
हफ्ते में या पन्द्रह दिन में एक बार एक व्रत जैसे एकादशी,गणेश चतुर्थी आदि करनी है
एकादशी के सम्बन्ध में संत कहते है कि एकादशी अर्थात एक आदत सी डाल लो एकादशी व्रत करने की. एकादशी का व्रत भगवान को अत्यंत प्रिय है
Accept for Today   
रात को जल्दी सोना और सुबह सूर्य उदय से पहले उठना है
रात को जल्दी सोना और सुबह जल्दी उठना दोनों ही सेहत के लिए बहुत अच्छे होते है और एक अच्छी आदत भी है.
Accept for Today   
पशु-पक्षियों के लिए पीने के लिए पानी रखना है
गर्मियों में पशु पक्षी प्यास के कारण मर जाते है इसलिए छत पर पक्षियों के लिए पानी और घर के बाहर गाय आदि के लिए पानी रखना है
Accept for Today   
DISCLAIMER: We do not accept any responsibility for any losses or damage incurred by anyone using any link on this site. You can use at your own risk.


Comments
2014-02-23 16:20:10 By satishkumar

very very good.

2014-02-23 16:20:07 By satishkumar

very very good.

2013-07-05 17:05:07 By manish kuver

very nice

2013-01-25 12:56:09 By Rashmi Ghimire

SO NICE ....JAI SHREE RADE MANGAL PRANAM

2012-12-18 11:46:09 By VIMAL RANKA

VERY GOOD THOUGHT OF SANKALP . IF PERSON FOLLOW SOME SANKALP IN THEIR LIFE , LIFE IS GOING SMOOTH , VERY HAPPY , FEEL GOOD , POSITIVE ENERGY IS COMING IN LIFE.

2012-11-22 15:53:00 By RAMESH BABU YADAV

JAY SHRI RADHE .....
ATI UTTAM VICHAR VINDU HAI.BAL, YUVA, BRDH SABHI KE LIAI NITI NAVUITI VINDU HAI.
HARI KIRPA.

2012-08-18 11:07:38 By NITESH PILANIA

I LIKE THIS SITE,AND AAJ MANE KRODH NAHI KARNE KA SANKALP LIYA H.....JAI SHREE BANKE BIHARI LAL....

2012-05-16 13:38:54 By Navneet Saraswat

pure man vachan karm se sankalp ka palan hoga .radhe krishna.sath he .

2012-05-16 13:27:55 By Rahul Kumar

thanks jai shri radhe

2012-03-19 09:55:01 By Archana Sharma

Radhaju k chandravadan pe
Mohan nayan chakor kiye re ..

2012-03-19 09:42:16 By Archana

Radhe Radhe

2012-02-15 13:23:30 By Jay Gaur

Very Nice.....!!

2011-11-30 16:30:49 By rajuraj

wah wah....

2011-11-29 05:10:14 By Meenakshi Goyal

javani mei rakt daan aur mrityu uprant naitr daan , ang daan aur deh daan karne ki savdhani rakhungi.

2011-11-28 14:06:41 By Chandrani Purkayastha

very nice initiative .. I want express my heartiest thanks to RadhaKripa for such a beautiful initiative...Radhe Radhe

2011-11-20 09:17:47 By Denesh Denesh Singh

संकल्प बहुत सुन्दर हैं | श्री राम जय राम जय जय राम

2011-11-17 11:36:55 By Sohan

Very nice! I wish we could take one bow daily

2011-11-17 11:09:40 By Ashok Kumar Gupta

bahut bahut achha

2011-11-17 11:09:39 By Ashok Kumar Gupta

bahut bahut achha

2011-11-17 11:09:27 By Ashok Kumar Gupta

bahut bahut achha

2011-11-17 11:04:50 By Amarendra Rai

HARE KRISHNA

2011-11-17 11:02:59 By AMARENDRA KUMAR RAI

HARE KRISHNA
THANK FOR SHARING

2011-11-17 07:15:23 By Radhey Krishna

Radhey Krishna

2011-11-17 06:49:06 By Reeti

Jai Shri Krishna
Very Nice

2011-11-17 06:43:59 By Radhey Krishna

Jai Shri Krishna

2011-11-17 05:49:08 By Krish Mehta

Hare krishana................today i am vvv.. lucky..

2011-11-17 05:48:51 By Krish Mehta

Hare krishana................today i am vvv.. lucky..

2011-11-08 10:45:28 By Meenakshi Goyal

my sankalp: raam katha mandakini chitrkut chit charu . tulsi subhag saneh ban siye raghubeer biharu .

2011-09-29 07:41:55 By Ram Ravi

v.nyc.

2011-09-18 10:24:28 By kusum

bhagwan ko ratne se jiwan sudhar jata hai

2011-09-06 15:29:25 By Neha Kalra

jai radha madhav........

2011-09-06 15:29:18 By Neha Kalra

jai radha madhav........

2011-09-04 11:05:57 By Sonam Lohia

jai shri radhe.....i cmpleted my sankalp.......

2011-09-03 14:42:25 By sonam

jai shri radhe....i hv cmpleted my sankalp.......

2011-09-03 14:37:43 By sonam

jai shri radhe....i hv cmpleted my sankalp.......

2011-09-03 13:09:05 By Jyoti Upadhyay

radhe -radhe I completed my sankalp

2011-09-03 13:06:14 By Jyoti Upadhyay

thanx I hv completed my sankalp

2011-09-02 14:11:08 By Sonam Lohia

i have completed my sankalp......jai shri radhe

2011-08-31 09:19:21 By Pt Chandra Sagar

apni atma se sakshatkar karne ka accha madhyam

2011-08-25 06:32:54 By Ajay Nema

Very nice guideline ....radhakripa should include this in main pragraph

2011-08-25 05:39:17 By Pradeep Narula

संकल्प पूरे करें कुछ ऐसे 1. असंभव संकल्प न लें। यथार्थवादी और आसान लक्ष्य बनाएं। 2. संकल्प लेना काफी नहीं, उनके लिए गंभीरता भी जरूरी है। समर्पण भावना से उनके लिए काम करें। 3. यदि घर वालों या दोस्तों के संकल्पों से आपके संकल्प मिलते हों तो उनसे संकल्प बांटें। इससे उन्हें पूरा करना आसान हो सकता है। 4. संकल्प थोडे-थोडे समय के लिए लें। मसलन मुझे अमुक काम तीन महीने में कर लेना है। ऐसे ही लक्ष्य बनाएं और इस पर भी नजर रखें कि कैसे उन्हें पूरा कर पा रहे हैं। 5. निजी डायरी में अपने संकल्प लिखें। विकास प्रक्रिया का विवरण भी लिखें। कोई चूक हो तो उसे भी दर्ज करें, ताकि आइंदा इसकी पुनरावृत्ति न हो। छोटे संकल्प पूरे हों तो खुद को शाबासी भी दें। 6. रिमाइंडर रखें, जो लक्ष्य की याद दिलाता रहे। सुबह साढे चार बजे उठ कर योग करना है तो सुबह की प्यारी नींद छोडनी ही होगी। 7. इतने ज्यादा संकल्प न लें कि उन्हें याद ही न रख सकें। दो या तीन संकल्प लें और उन्हें ही पूरा करें। 8. पुराने संकल्प पूरे नहीं हुए तो न पछताएं। बीती ताहि बिसार दे..यानी बीते हुए को भूल कर आगे के बारे में सोचें। अतीत की विफलता पर सिर न धुनें, भावीसंकल्प पूरा करने के बारे में सोचें। 9. थोडा लचीलापन भी है जरूरी। संकल्प इतने भी जरूरी न हो जाएं कि उसके लिए अन्य जिम्मेदारियों को भूल जाएं। हर चीज का महत्व है, लिहाजा एक बेहतर तालमेल बिठाना आवश्यक है। 10. संकल्पों को पूरा करने के लिए खुद को समय देना होगा। सबसे बडा संकल्प तो यही होना चाहिए कि खुद को समय दें।

2011-08-17 05:02:37 By Ranbir Singh

taken some sanklap. will try to fulfil it. RADHE MA help karegi. very nice.

2011-08-14 15:40:15 By Sunita Anand

nice

2011-08-13 07:34:41 By Ashish Rai

nice..... radhey radhey...

2011-08-13 02:10:54 By Waste Sam

radhey radhey... ek baar phir dhanyawad aapka iss prayas ke liye.. radha rani sada aapko rah-de.. jai shri radhey

2011-08-12 17:28:38 By Waste Sam

radhey radhey.. ajab se mujhe yeh site mili hai tab se mujhe ek rah mil gayi hai jisse mein apne doston ko dikha sakti hoon aur unse sankalp karwa kar kuch accha banane ke liye preret kar sakti hoon.. mere pass shabh nahi hai dhayawad karne ke liye iss prakar ke aapke prayas ke liye.. dhanyawad.. radha rani sada aapko aashirwad deti rahe...

2011-08-12 07:29:44 By sanjay chouksey

RADHE RADHE !!!

2011-08-12 05:29:59 By Gulshan Piplani

सात्विक संकल्प प्रभु अवश्य पूरा करते हैं| बस मात्र संकल्प करने की देरी होती है|

2011-08-11 16:04:56 By Waste Sam

radhey radhey.. aapke yeh sab sankalp bahut sunder hai... inmein aap aur bhi sunder sankalp jodd sakte hai jaise bhagwan ke bhajan share karna, kissi pareshan insaan ko bhagwan ke jane ke liye praret karna ethyaadi...

2011-08-09 09:21:09 By Vipin Sharma

rADHE rADHE

2011-08-06 18:57:48 By Gulshan Piplani

सात्विक संकल्प ही शांति का विकल्प है|

2011-08-06 16:45:09 By kiran agrawal

wonderful site for krishna bhakts

2011-08-02 16:09:20 By Ravi Kant Sharma

जय श्री कृष्णा.... अति उत्तम प्रयास..... संकल्प धारण करने से मन में दृड़ता का भाव उत्पन्न होता है।

2011-08-02 15:20:24 By Vishwabandhu Rajeevranjan

en sankalp se man satwik ho jata h ,radhe radhe

2011-08-02 11:12:19 By Pradeep Narula

Too good. Radhe Radhe

2011-08-02 10:28:29 By AdikalilllamSreenivasan Santhosh

Raaaaaadhey Raaaaaadhey ... Shyaaaaaam Miladey

2011-08-01 13:08:49 By Rajender Kumar Mehra

pratidin ek sankalp jaroor karen.......radhe radhe

2011-08-01 08:31:50 By Bhakti Rathore

very nice

2011-08-01 05:22:02 By Haripriya Dasi

very nice....

2011-07-31 15:33:15 By Ajay Nema

Nice initiative...

Enter comments


 
Radha Blessings



Click here to know more about Radha Blessings
Article
Latest Satsung
Latest Video
Latest Opinion Topic
Latest Bhav
Spiritual Directory


Today Top Devotee [3996]

Today Opinion Topic

प्रसन्न कैसे रहें?

Radhakripa on Mobile

This Month Festivals

गणगौर व्रत 02-04-2014
रामनवमी 08-04-2014
कामदा एकादशी 11-04-2014
हनुमान जयंती 15-04-2014
वैशाख मास - दान का महत्व 16-04-2014
Guru/Gyani/Artist
Online Temple
Radha Temple
   Total #Visiters :2727
Baanke Bihari
   Total #Visiters :1062
Mahakaal Temple
   Total #Visiters :584
Laxmi Temple
   Total #Visiters :760
Goverdhan Parikrima
   Total #Visiters :1046
Animated Leelaye
Maharaas Leela
   Total #Visiters :622
Kaliya Daman Leela
   Total #Visiters :
Goverdhan Leela
   Total #Visiters :
Utsav
Radha Ashtami
   Total #Visiters :
Krishna Janmashtami
   Total #Visiters :
Diwali Utsav
   Total #Visiters :760
Braj Holi Utsav
   Total #Visiters :
Online Jap

Radha Naam Jap
   Total #Jap :1021741
   Today #Jap :
Devotee in Jap

MahaMantra Jap
   Total #Jap :480388
   Today #Jap :
Devotee in Jap

Shiv Naam Jap
   Total #Jap :
   Today #Jap :
Devotee in Jap

Laxmi Jap
   Total #Jap :56491
   Today #Jap :
Devotee in Jap

Nav Durga Jap
   Total #Jap :151463
   Today #Jap :
Devotee in Jap
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com


Name Email Address